आखिर चुदाई नसीब हो ही गई

Akhir chudai nasib ho hi gayi:

hindi sex story

हैल्लो दोस्तों कैसे हैं आप सभी ? मैं आशा करती हूँ की आप सभी अच्छे होंगे और इतनी गर्मी में भी चुदाई के मजे ले रहे होगे | मेरा नाम सरस्वती है और मैं पन्ना कि रहने वाली हूँ | मेरी उम्र 36 साल है और मैं दिखने में गोरी हूँ | मेरी हाईट 5 फुट 4 इंच है और मेरा बदन भरा हुआ है | मेरा थोडा सा पेट भी निकला हुआ है लेकिन फिर भी मैं मस्त लगती हूँ | सभी मुझसे कहते हैं की मेरी आँखे बहुत अच्छी हैं और कुछ कहते हैं कि मेरे होंठ अच्छे हैं लेकिन मेरा मानना है कि मैं ऊपर से नीचे तक क़यामत हूँ | दोस्तों मैं इस साईट में रोज कहानियां नहीं पढ़ पाती हूँ क्यूंकि मुझे घर के भी सारे काम करने पड़ते हैं | लेकिन जब भी मैं फ्री रहती हूँ तब जरुर एक न एक कहानी तो पढ़ ही लेती हूँ | आज तक मैं कोई भी कहानी नहीं पढ़ी है इसलिए आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी पेश करने जा रही हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | मैं उम्मीद करती हूँ कि आप लोगो को मेरी कहानी जरुर पसंद आयगी | तो अब मैं आप लोगो का ज्यादा समय न लेते हुए सीधा अपनी कहानी पर आती हूँ |

मेरे घर में मैं रहती हूँ और मेरे दो बेटे हैं जो कि अभी स्कूल में पढाई करते हैं और मेरे सास ससुर रहते हैं और वो ज्यादा उम्रदराज हैं तो मुझे ही घर का सारा काम अकेले ही करना पड़ता है | हमने एक बार बाई लगायी थी लेकिन वो चोर निकली इसलिए उसे निकाल दिया और कोई भी काम करने वाले को नहीं लाये | सुबह के नाश्ते से लेकर रात के खाने तक और झाड़ू से लेकर कपडे, पोछा और सभी काम मैं अकेले ही करती हूँ | इतना सब कुछ करने के बाद भी मुझे पेट भर के चुदाई नसीब नहीं हो पाती | मेरे पति रमेश एक सेल्समेन हैं और वो फील्ड वर्क में काम करते हैं जिस वजह से वो थक जाते हैं और रात में खाना खा कर जल्दी सो जाते हैं | वो ये तक नहीं सोचते कि मेरी चूत उनके लंड के लिए कितनी प्यासी रहती है और मुझे खुद से ही अपनी प्यासी चूत की आग को बुझाना पड़ता है | मेरे दोनों बेटे अभी छोटे हैं इसलिए उनका कमरा अलग है मैं और मेरे पति हम दोनों एक कमरे में सोते हैं | इतना अच्छा मौका रहता है चुदाई का लेकिन वो मुझे नहीं चोदते | शादी के कई समय बाद तक इन्होने मुझे इतना चोदा हैं कि मैं चुदाई की आदि हो चुकी हूँ लेकिन फिर भी मैं अपने आप पर कंट्रोल करती हूँ | कभी कभी तो लगता है कि काश मेरे पास ऐसा लंड होता जो मेरी हमेशा चुदाई करता रहता | जब भी मैं किसी भी जानवर को चुदाई करते हुए देखती हूँ तो मेरी चूत से पानी रिसने लगता है और मैं गरम हो जाती हूँ और यही सोचती हूँ कि काश मेरी जिन्दगी भी इन्ही के जैसी होती जब जहाँ मौका मिले वहीँ चुदाई करो | न कोई बोलने वाला न कोई फटे में टांग अड़ाने वाला | खैर अब इंसान का जन्म मिला है और मेरी नसीब में चुदाई नहीं है तो क्या कर सकते हैं ? चढाई न मिलने की वजह से मेरे चेहरे की रौनक कम सी होने लगी थी और मैं अपने आप को मरा हुआ महसूस करने लगी थी | एक दिन की बात है मैं मार्किट गई हुई थी फल लेने जब वहां से मैं ऑटो से लौट रही थी तब मुझे अकेला अकेला सा महसूस हो रहा था तभी हमारे मोहल्ले का एक लड़का है जिसका नाम नीरज है | वो दिखने में भी अच्छा है और उसकी कदकाठी भी अच्छी है | उसने मेरे साइड में बाइक लगायी और पूछा कि आंटी आप कहाँ जा रहे हो ? तो मैंने कहा कहीं नही बेटा फल लेने मार्किट गई थी अब घर जा रही हूँ | तो उसने कहा चलो आंटी में छोड़ देता हूँ आपको घर तक मैं भी घर ही जा रहा हूँ | मैंने कहा ठीक है |

असल में वो लड़का हमारे घर के बाजु में किराये से रहता है | मैं उसके पीछे बाइक पर बैठ गई और वो चालाने लगा बाइक | जब भी गड्ढे या स्पीड ब्रेकर पड़ता तो मेरे दूध उसकी पीठ पर लगते | जब मेरे दूध उसकी पीठ से दबते तो मुझे बहुत ही अच्छा लगता लेकिन मैं ये भी समझ रही थी कि वो ऐसा जानबूझकर कर रहा है क्यूंकि वो बार बार डिस्क ब्रेक मार रहा था | खैर मुझे तो मजे लेने से मतलब था इसलिए मैंने उसे कुछ भी नहीं कहा | जब मैं घर पंहुची तो देखा कि घर में ताला लगा हुआ है | मेरी समझ में नहीं आ रहा था कि ये सब कहाँ गए हैं और किसी ने मुझे फ़ोन तक नहीं किया | नीरज ने मुझसे पूछा कि क्या हुआ आंटी ? तो मैंने कहा कि यार ये लोग पता नहीं बिना बताये कहाँ चले गए हैं और मुझे बताया तक नहीं | फिर मुझे याद आया कि मेरे पास हमेशा घर की एक और चाबी रहती है | मैंने कहा आओ अन्दर बैठ जाओ चाय पानी पी कर चले जाना | उसने कहा ठीक है और मैं दरवाजा खोल कर उसे अन्दर बुला कर सोफे पर बैठा दिया | उसके बाद जब मैं किचिन में चाय बनाने गई तो मेरे मन में खुराफात सूझने लगी | मैंने सोचा कि आज ये लड़का है और घर में कोई भी नहीं है | इससे अच्छा मौका मुझे नहीं मिलेगा चुदाई करने का | मैंने नीरज को आवाज़ लगायी और कहा कि दो मिनट के लिए किचिन आना | जब वो आया तो मैंने उसका हाँथ पकड़ लिया | तो उसने कहा अरे आंटी आप क्या कर रहे हो ये ? तो मैं रोते हुए उसे अपनी आप बीती सुनाने लगी | उसके बाद उसने मेरे सर को अपनी छाती पर टिका लिया और कहा आप चिंता मत करो | मैं तो अकेले रहता हूँ जब भी आपको चुदाई चाहिए मेरे घर आ जाया करना | मैंने कहा ठीक है और फिर मैंने अपने होंठ उसके होंठ में रख दिए और किस करने लगी | वो भी मेरा साथ देते हुए मेरे होंठ को चूसने लगा और मेरे दूध भी दबाने लगा |

तभी मुझे बाहर से कुछ आवाज़ आने लगी तो मैंने उसे अलग किया और कहा बाहर जा कर बैठ जाओ | फिरे वो सोफे पर बैठ गया तभी बच्चे और सास ससुर भी आ गए | | उसके बाद मैंने चाय बनायीं और सभी को दी | चाय पीने के बाद वो चला गया अपने घर | फिर मैं उसके घर शाम को गई तो वो सिर्फ चड्डी और बनियान में था | मैंने उसे देखा और उसने मुझे देखा और फिर उसने दरवाजा लगाया और तुरंत ही अपनी बांहों में ले कर मुझे किस करने लगा | मैं भी उसे किस कर रही थी | किस करने के बाद मैंने उसकी बनियान को उतार दिया और फिर नीचे बैठ कर उसकी चड्डी भी उतार कर नंगा कर दिया | उसके लंड को मैं अपनी जीभ से चाटने लगी तो उसके मुंह से आहा ऊन्ह्ह ऊम्म्ह आहा ऊंह ऊम्मंह आहाआ ऊंह ऊमंह उन्हह कि आवाज़ निकलने लगी | उसके लंड को चाटने के बाद मैं उसके लंड को अपने मुंह में भर कर चूसने लगी तो वो आहा ऊन्ह्ह ऊम्म्ह आहा ऊंह ऊम्मंह आहाआ ऊंह ऊमंह उन्हह करते हुए मेरे मुंह को चोदने लगा | मैंने उसके लंड को 10 मिनट तक चूसा | उसके बाद उसने मेरे सलवार को उतार दिया और ब्रा को भी साथ में उतार दिया और मेरे दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा तो मेरे मुंह से भी आहा ऊन्ह्ह ऊम्म्ह आहा ऊंह ऊम्मंह आहाआ ऊंह ऊमंह उन्हह की आवाज़ आने लगी | मेरे दूध को मसल कर चूसने के बाद उसने मेरा पायजामा भी उतार दिया और फिर पेंटी उतार कर मेरी दोनों टांगो को खोल दिया और अपनी जीभ से मेरी चूत को चाटने लगा तो मेरे मुंह से आहा ऊन्ह्ह ऊम्म्ह आहा ऊंह ऊम्मंह आहाआ ऊंह ऊमंह उन्हह की सिस्कारियां निकलने लगी | वो मेरी चूत को चाटते हुए मेरे चूत के दाने को भी होंठ में दबा कर चूस रहा था और मैं आहा ऊन्ह्ह ऊम्म्ह आहा ऊंह ऊम्मंह आहाआ ऊंह ऊमंह उन्हह करते हुए उसके मुंह को अपनी चूत पर दबाने लगी | फिर उसने अपने लंड को मेरी चूत के अन्दर पेल दिया और चोदने लगा तो मैं भी आहा ऊन्ह्ह ऊम्म्ह आहा ऊंह ऊम्मंह आहाआ ऊंह ऊमंह उन्हह करते हुए चुदाई के मजे लेने लगी | कुछ देर धीरे धीरे चोदने के बाद उसने अपनी चुदाई कि स्पीड बढ़ा दिया और जोर जोर से शॉट मारते हुए चोदने लगा तो मैं भी आहा ऊन्ह्ह ऊम्म्ह आहा ऊंह ऊम्मंह आहाआ ऊंह ऊमंह उन्हह करते हुए अपनी गांड उठा उठा कर चुदवा रही थी | करीब आधे घंटे की चुदाई के बाद उसने अपना वीर्य मेरी चूत में ही छोड़ दिया |


Comments are closed.



Online porn video at mobile phone


sasur bahu ki chudai videodaku ne chodahindi sex story pornlund chut in hindi videopriyanka ki choothindi chudai ki mast kahaniyahindi sexy satoryhindi ladki chudaibdhi maa ki foto shit chudai ki kahaniyखुन नकल छाय ऐशि चोदाय देशि लडकिmami sexy hindi storyheroin ki chudai storychachi ki mast gaandmose ki chudaiaunty ki chootदोस्त की मम्मी को ब्लैकमेल कर चोदाfull chudai hindiraat ki mast chudaisexi storydost ki bahan ko chodareal suhagrat storyjabardasti chudai kidevar bhabhi secxxx porn indian mal korba hindi mebhabhi sex kahani hindiसेक्स कहानी रियल खून निकलेhindi sexy stroestrain mein bhut se chudi sexy kahaniyayum sex stories gaon ke bda bda gaandrandi bajar sexचोद डाला मेरी फूल सी बच्ची को जालिम लैंड से कहानी हिंदी मैristo me chudai ki kahanihindi chudai ki kahaniya in hindisexy ki chudaitrupti ki chudaihindi land chut storyghar ki sexy storydevar bhabhi new story in hindiantarvasna story downloadchachi ki moti gaandgay sex kathapadosan aunty ki chudaichut ki gehraibhabhi ke sath sex ki storyrandi maa ki chutsuhagrat ki chudai hindi storybehan ki chudai ki hindi kahanichudai new hindi storymeri kunwari chut ki chudaichut chut landजेठ बहू सेकस hindi story pdfnandoi ne muje aur pati ne bahan ko choda sex kahaniantarvasna jabardasti chudaikahani maa ki chudainaukarani ki chudailoda in chutantarvasna on hindihinde six storyसेकसि देसि हिन्दी भसामे चाेदा करमेwww beti ki chudai comindian aunties chootrasbhari kahaniyabahan ki chudai hindi fontHindichutkesechodexheni hindi xxx nokranihindi me chudaisavita bhabhi sex stories comicsjabardasti chodne ki kahanibehan bhabhi ki chudaiमामा अण मामीची कहाणीladki ki seal kaise todeindian sax storyhindi gandiindian sex in khetsex ki sachi kahanisexy chootbadi bahannokarlund or chut ki kahanikhana banane vali aunty ko coda xxx kahani Hindi me meri chut phad dochudai story behan kibehan ki gand mari kahaniMousi ki sexy boor ki madak sugandhjangali chudaibahen ke sath kam krane ka fayda bathroom me sex xxx sex xxx hindi comicsuhagraat ki chudai ki photohindi sex story bhaisexy story of sex in hindidesi chudai ki kahanibhabhi ke sexy storylesbian sex story hindiristo me chudai comindian real bhabhi kea heard reapmaa ki chodai comdidi ka doodh piyasex video hijira land rehene balaonly sex story in hindiwww.mere biwi aur mera dost desi kahani.com