अंकित ने हम दोनों सहेलियों को एक साथ चोदा

Ankit ne hum dono saheliyon ko ek sath choda:

desi porn stories, antarvasna

मेरा नाम आकांक्षा है और मैंने इसी वर्ष अपनी 12वीं की परीक्षा पास की है, मेरे पिता एक प्रॉपर्टी डीलर है और हम लोग बनारस में रहते हैं। मेरी मां एक ग्रहणी है और मेरे बड़े भैया भी पापा के साथ ही काम करते हैं, वह दोनों साथ में ही काम कई वर्षों से कर रहे हैं। मैं घर में छोटी हूं इस वजह से सब लोग मुझे प्यार और दुलार देते हैं और मेरे पिता जी मुझे बहुत ही अच्छा मानते हैं। उन्होंने मुझे एक बड़े स्कूल में पढ़ाया है और उसके बाद वह चाहते थे कि मैं एक अच्छे कॉलेज में दाखिला लू। मैंने जब अपनी स्कूल पढ़ाई पूरी की तो मेरे नंबर भी बहुत अच्छे थे, जिससे मेरे पिता बहुत ही खुश हुए और वो कहने लगे कि मैं चाहता हूं तुम किसी अच्छे कॉलेज में पढ़ाई करो। मैंने उन्हें कहा कि मैं यहीं रहकर अब अपनी आगे की पढ़ाई करुंगी, पर वह कहने लगे कि तुम किसी अच्छे कॉलेज में पढ़ाई करो, पैसे की तुम बिल्कुल भी चिंता मत करना मैं तुम्हें एक अच्छे कॉलेज में पढ़ना चाहता हूं।

इस वजह से मैंने मुंबई के एक कॉलेज में दाखिला ले लिया। जब मेरा एडमिशन वहां हुआ तो मेरे पापा मेरे साथ आए थे और उन्होंने मेरे लिए एक हॉस्टल में रूम करवा दिया। वह कुछ दिनों तक मेरे साथ ही मुंबई में रुके हुए थे। हम लोग हमारे एक परिचित के घर पर रुके थे और मेरे पापा मुंबई काफी दिन तक रहने के बाद वह बनारस वापस चले गए। वह मुझे बीच-बीच में फोन कर दिया करते थे और मेरे हाल चाल पूछते थे वो कहते थे कि तुम्हें किसी भी प्रकार की कोई समस्या होगी तो तुम मुझे तुरंत ही फोन कर देना तुम्हें बिल्कुल भी डरने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि मैं घर से पहली बार बाहर निकली थी इसलिए मेरे अंदर थोड़ी बहुत हिचकिचाहट थी और मैं सोच रही थी कि मैं घर से बाहर निकल रही हूं कहीं मुझे किसी प्रकार से कोई समस्या ना हो लेकिन अब मैं हॉस्टल में रहने लगी थी। जब मैं कॉलेज जाती तो मेरी अब कॉलेज में दोस्ती होने लगी थी। धीरे-धीरे सब लोग परिचित होते चले गए और हम लोगों का ग्रुप बन गया। मेरी एक सहेली है जिसका नाम सौम्या है। हम दोनों की बहुत ज्यादा बनती थी और हम दोनों साथ में ही रहते थे। हमारे कॉलेज में कई लोग हमें जुड़वा बहन समझते थे क्योंकि हम दोनों की हाइट भी सेम थी और हम दिखते भी एक जैसे थे इस वजह से सब लोगों को ऐसा लगता था कि हम दोनों बहने हैं। हमारी क्लास में एक लड़का था उसका नाम अंकित था। उससे हम दोनों ही पसंद करते थे लेकिन वह हम दोनों से ज्यादा बात नहीं किया करता था।

जब हम लोगों की अंकित से बात होने लगी तो हम तीनों ही साथ में घूमने जाया करते थे और हम तीनों बहुत मस्ती करते थे। हम लोग कई बार कॉलेज से बंक भी मार लेते थे और कहीं घूमने निकल जाए करते थे। अंकित के पिता एक बडे डॉक्टर हैं और वह एक अच्छे घर का लड़का है। वह बहुत ही मस्तियां किया करता है और सौम्या के पापा भी डॉक्टर हैं। सौम्या मुंबई की रहने वाली है और अंकित भी मुंबई का रहने वाला है इसलिए मैं उन दोनों के घर अक्सर चली जाया करती थी। अब उन दोनों के घर वाले भी मुझ से परिचित हो चुके थे और वह लोग मुझे बहुत अच्छा मानते थे वह कहते थे कि तुम्हारा जब मन नहीं लगता तो तुम घर पर ही रुकने आ जाया करो। मुझे जब भी ऐसा लगता था कि मेरा मन हॉस्टल में नहीं लग रहा है तो मैं सौम्या के साथ ही रुक जाया करती थी और हम दोनों बहुत ही मस्तियां किया करते थे। हम दोनों पढ़ने में भी अच्छे थे और हम अपनी पढ़ाई पर बहुत ही ध्यान देते थे। अंकित को पढ़ने का बिल्कुल भी शौक नहीं था वह सिर्फ पास होने के लिए सोचता रहता था और सोचता था मैं किसी प्रकार से पास हो जाऊं तो मेरे लिए बहुत बड़ी बात है। हम लोग उसे समझाते थे कि तुम्हें पढ़ाई करनी चाहिए परंतु वह बिल्कुल भी पढ़ाई नहीं करता था और सिर्फ हमारे भरोसे ही रहता था। हम लोग उसका काम कर दिया करते हैं और वह हमें कहता था कि तुम लोग मेरी मदद कर देती हो। मुझे बहुत अच्छा लगता है जब तुम दोनों मेरी मदद कर देती हो। मेरे दिल में भी अंकित के लिए कुछ फीलिंग थी और सौम्या के दिल में भी उसको लेकर कुछ ना कुछ चल रहा था। यह बात मुझे भी पता थी लेकिन मैं यह बात सौम्या से नहीं कह सकती थी यदि मैं उससे कुछ कहती तो उसे बुरा लग सकता था इसलिए मैंने उसके सामने इस चीज का जिक्र नहीं किया और ना ही कभी इसके बारे में मैंने उससे बात की।

अंकित को भी हम दोनों के बारे में पता था और अंकित को यह भी मालूम था कि हम दोनों उसे बहुत ही ज्यादा पसंद करते हैं लेकिन हम दोनों में से किसी की भी हिम्मत नहीं होती थी कि हम उससे इस बारे में बात कर सके और या फिर अंकित हम से इस बारे में बात कर पाए। हम तीनों के बीच में बहुत ही अच्छी अंडरस्टैंडिंग थी। कभी भी हमें किसी की जरूरत पड़ती तो हम तीनों साथ में ही खड़े रहते और मुझे ऐसा लगता है कि वह दोनों हमेशा ही मेरा साथ देते हैं इसलिए मैं उन दोनों को बहुत ज्यादा मानती थी क्योंकि मैं ज्यादा किसी से परिचित नहीं थी। अंकित और सौम्या ही मेरे दोस्त है। एक बार हम तीनों ही मूवी देखने गए हुए थे तो मैं अंकित के साइड मे बैठी हुई थी और सौम्या भी उसके साइड में बैठी थी अंकित हम दोनों के बीच में था। मैंने उसका हाथ पकड़ा हुआ था और सौम्या ने भी उसका हाथ पकड़ लिया। हम तीनों ऐसे ही बैठ कर मूवी देख रहे थे।

मुझे कहीं ना कहीं अंकित के साथ बहुत ज्यादा कंफर्टेबल लग रहा था और मैंने उसके लंड को पकड़ लिया। जब मैंने उसका लंड पकड़ा तो वह उत्तेजित हो गया और सौम्या ने भी उसे किस कर लिया। मैं उसके लंड को बाहर निकालते हुए अपने मुंह में ले लिया और उसे अच्छे से चूसने लगी। मैं उसके लंड को अपने मुंह के अंदर तक ले रही थी और सौम्य उसके होठों को चूस रही थी। अंकित से बिल्कुल भी नहीं रहा जा रहा था। हम तीनों ही सौम्या के घर में चले गए उस दिन उसके घर में कोई भी नहीं था। हम तीनो ने अपने कपड़े खोल लिए और जब मैंने अंकित का शरीर देखा तो मुझसे बिल्कुल भी नहीं रहा गया और मैंने तुरंत उसके लंड को अपने मुह में समा लिया बहुत देर तक चूसने के बाद उसका माल मेरे मुंह के अंदर गिर गया। उसने हम दोनों को बिस्तर पर लेटा दिया और उसने सौम्या के बदन को चाटना शुरू किया। अंकित ने सौम्या की योनि के अंदर अपना लंड डाल दिया जैसे ही उसने उसकी योनि में अपने लंड को डाला तो वह चिल्लाने लगी। उसकी सील टूट चुकी थी उसे बहुत मजा आ रहा था जब वह उसे चोद रहा था। अंकित ने सौम्या को बहुत देर तक चोदा उसके बाद उसने अपने माल को उसकी योनि के अंदर ही गिरा दिया।

अंकित ने मुझे घोड़ी बनाते हुए मेरे चूत को चाटना शुरू किया और बहुत देर तक वह मेरी चूत को चाटता रहा। उसने मेरे चूत मे जैसे ही अपने लंड को डाला तो मेरी चूत से खून की पिचकारी उसके लंड पर जा गिरी और वह मुझे झटके मारने लगा। वह बड़ी तेजी से झटके मार रहा था जिससे मेरा पूरा शरीर हिल रहा था और मुझे बहुत मजा आ रहा था। अब मैंने अपनी चूतड़ों को उसकी तरफ धक्के देना शुरू कर दिया मैं बड़ी तेज तेज अपनी चूतडो को उसके लंड पर मिलाती जा रही थी जिससे कि उसका पूरा शरीर गर्म होने लगा और मेरा शरीर भी गर्म होने लगा। मुझे बहुत अच्छा लग रहा था जब वह मुझे चोद रहा था। उसने मेरे चूतड़ों को कसकर पकड़ लिया और बड़ी तेजी से झटके मारने लगा। उसने इतनी तेजी से मुझे चोदना शुरू किया कि मेरा शरीर पूरा दर्द होने लगा मेरी चूतडे लाल हो चुकी थी। कुछ ही समय बाद उसका वीर्य मेरी योनि के अंदर जा गिरा जब उसका वीर्य मेरी योनि में गिरा तो मुझे बहुत ही अच्छा महसूस हुआ मैंने उसके लंड को अपनी योनि से निकालते हुए अपने मुंह के अंदर ले लिया। मैने उसके लंड को बहुत अच्छे से चूसा उसके कुछ देर बाद सौम्या ने भी उसके लंड को अपने मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया और वह बहुत ही अच्छे से अंकित का लंड चूस रही थी कुछ देर बाद ही उसका वीर्य उसके मुंह के अंदर ही चला गया।


Comments are closed.



Online porn video at mobile phone


maa bete ki chudai ki new kahanisarso ke khet me chudaigaram jawanihindi xxiअन्तर्वासनाdadi ki chudaikahani mastram kibhabhi ki gaand mein lundandho kasexxxsavita bhabhi sex story in hindimuft me mili chutmummy ko pregnant kiyaMuslim ladki ki gaand maari sex storychudai baap sebahan ki chudai ki hindi kahaniBeyar zoo porn muviechudai americanNoukri aisi chut mili chodne kovinitha sexXXX चौड़ी गांड़ की कहानियाँchudai story latestगांव म घर का सेक्स कहानीhindi chudai kahaniHindi randi maa bhen ki nigro ke saat samuhik chudai ki khaniya antarvasnasexy kahani behanजादू के चक्कर में चुद गईfreehindisexystory.combf chudai kahanichut ki chudaikawari chut ki chudaiमालिक ने नौकरानी को चोद चोद के उसका दूध पीता है कहानी www.sexi hindi story aunty aur nockar ka sex.comsexy bhabhi ko chodashameena ki chudai ki story in hindi bhai bahen ki chudai storisaxy storisedhongi baba sexbude saxxxx mobenangi bur chudaichut raskuwari dulhan ki chudaii sex story in hindimastram ki chudai kahani hindifree hindi sex store rippChudai video Hindi Bhojpuri gand me first time 2019bhabhi ki chut ki mast chudaisleeping hot mami ki chudai ki hindi kahaniyachut chidailadki ki chut kahanirukma mosi ki hindi chudai kahanihindi fonts sex kahaniUmmid bhabhi ki sex videosbhan ko khus kiyachoot ki chudai kahanimalik ne muja bajara ke ketha me chodabhabhi chudikesi ladiki chudi mubil nokuwari chut chudaichudai ki kahani in hindi freedesi bhabhi jidesi dex comantarvasnadesi सेक्स कॉमिक्स freechut kahani in hindimoti aunty ko chodalund choot photosex storysote sote chudaiLadki ko majburan anjan ladke se karna para sex write in hindi storybiwi xxx kahaniwww aunties sex comLAD.CUT.KE.BAT.HINDI.ME.dard bhari chudai kahaniaunty sexy hindi storiesrhotak.ki.ristno.me.real.sex.storychudai ladki ki jubanihot aunty sexVergin policewali ka chut faddiya sex storyjeth bahu ki chudai