लंड से मतलब नहीं बस चुदाई काफी है

Lund se matlab nahi bas chudai kafi hai:

desi chudai ki kahani

मेरा नाम सतीश है और मैं अभी कॉलेज में ही पढ़ता हूं। मेरी उम्र 22 वर्ष है। हमारे घर पर मेरे पिताजी ही कमाने वाले व्यक्ति हैं और मेरी मां एक ग्रहणी है। मेरी दो छोटी बहनें हैं जो कि अभी स्कूल में ही पढ़ रही हैं लेकिन मेरे पिताजी कई बार कहते रहते हैं कि मुझे तुम्हारी बहनों की शादी भी करनी है। जिसकी वजह से मुझे बहुत ही काम करना पड़ता है और वह कुछ ज्यादा ही काम करते रहते हैं। कभी मुझे भी लगता है कि मुझे भी अब काम कर लेना चाहिए लेकिन मैं अभी अपनी पढ़ाई कर रहा हूं इसलिए मैं चाहता हूं कि जल्दी से अपनी पढ़ाई खत्म करने के बाद कहीं अच्छी जगह पर कुछ काम कर लूं। ताकि मेरे पिताजी की आर्थिक सहायता हो सके। कॉलेज में भी मेरे बहुत अच्छे दोस्त हैं वह मुझे हमेशा ही कहते रहते हैं कि तुम्हें जब भी किसी प्रकार की आवश्यकता हो तो तुम हमें बता देना। उन लोगों ने मेरी बहुत ही मदद की है। कभी भी मुझे किसी चीज की आवश्यकता होती तो वह मेरी मदद कर दिया करते हैं। क्योंकि वह लोग आर्थिक रुप से बहुत ही संपन्न है और एक अच्छे घर से आते हैं। इस वजह से वह मेरी तकलीफ को समझते हैं और मुझे वह बहुत ही सपोर्ट करते हैं। मेरा एक दोस्त है उसका नाम राजेश है। वह तो मुझे हमेशा ही कहता रहता है कि तुम अपनी पढ़ाई पूरी कर लो और उसके बाद मेरे पिता जी के यहां पर नौकरी कर लेना। वह तुम्हें एक अच्छी तनख्वाह दे देंगे। मैंने उसे कहा कि अभी तो फिलहाल मैं पढ़ाई कर रहा हूं। उसके बाद ही मैं कुछ इस विषय में सोच पाऊंगा लेकिन वह मुझे कहता है कि तुम बिल्कुल भी चिंता मत करना। क्योंकि मैं तुम्हारे साथ हमेशा ही हूं।

ऐसे ही मैं एक दिन कॉलेज से घर पहुंचा तो मैंने देखा कि मेरे चाचा हमारे घर पर बैठे हुए हैं। जब मेरे चाचा ने मुझे देखा तो पूछने लगे कि तुम्हारा कॉलेज कैसा चल रहा है। मैंने उन्हें बताया कि कॉलेज तो बहुत ही अच्छा चल रहा है। आप सुनाइए आज आपका आना कैसे हो गया। वो कहने लगे बस ऐसे ही कुछ समस्या हो गई थी इसलिए मुझे तुम्हारे घर पर आना पड़ा। मेरे चाचा का नाम रघुवीर है और वह एक अच्छे पद पर हैं। मैं अब अपने पिताजी के सामने ही जाकर बैठ गया और मेरे चाचा मेरे पिताजी से बात कर रहे थे कि अब आगे क्या करना है। क्योंकि घर तो हमारे हाथ से जा चुका है। मुझे पहले कुछ समझ नहीं आ रहा था कि वह लोग किसके बारे में बात कर रहे है और किस विषय में बात कर रहे हैं लेकिन जब मैं थोड़ी देर वहां बैठा रहा तो मुझे समझ आया कि मेरे चाचा का घर नीलाम होने वाला है क्योंकि उन्होंने जो कर्जा बैंक से लिया था वह सो चुका नहीं पाए और बैंक में उनका घर सीज कर दिया है। वह किसी और को बेचने वाले हैं। जिससे कि मेरे चाचा बेघर हो चुके हैं। मेरे चाचा कह रहे थे कि यदि मेरी नौकरी नहीं छूटी होती तो शायद वह घर मेरे पास होता लेकिन अब मेरे पास रहने के लिए छत भी नहीं है और मुझे बहुत ही दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है और ना ही मेरे पास अब कोई नौकरी है। मेरे पिताजी ने कहा कि तुम एक काम करो तुम हमारे साथ ही रह लो। मेरे चाचा ने कहा कि कुछ समय के लिए हम आपके साथ ही रह लेंगे। उसके बाद मुझे कहीं पर नौकरी मिल जाएगी तो मैं अपने लिए अलग से व्यवस्था कर लूंगा। मेरे चाचा के दो बच्चे हैं। वह भी अब हमारे साथ ही रहने के लिए आ गए और मेरी चाची भी आ गई। मेरी चाची का नाम मीना है। वह बहुत ही अच्छी महिला है। वह लोग हमारे साथ ही रहने लगे। हम लोगों के भी दो ही कमरे थे। जिससे कि हमें कुछ दिनों तक एडजस्ट करना पड़ रहा था। हम सब लोग साथ में ही सो जाया करते थे। क्योंकि हमारे घर पर अब बहुत लोग हो चुके थे। पहले से ही हम लोग पांच थे और अब मेरे चाचा के भी दो बच्चे थे और मेरी चाची भी थी। इसलिए हम लोग अब एडजेस्ट कर के सोया करते थे। हम सब साथ मे ही रहने लगे।

मेरे पिताजी और मेरे चाचा एक ही कमरे में सोते थे और हम लोग दूसरे कमरे में सोते थे। मेरी चाची मेरे बगल में लेटी हुई थी। जब वह मेरे बगल में लेटी हुई थी तो मैंने उनके ऊपर अपना हाथ रख दिया और मैं ऐसे ही लेटा हुआ था। उनकी चूतडे मेरे लंड से टकराने लगी और जब उनकी चूतडे मेरे लंड से टकराती तो मेरा लंड खड़ा हो गया। मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा था जब उनकी चूतडे मुझसे टकराती जाती। अब उन्हें भी यह एहसास होने लगा कि मेरा लंड खड़ा हो गया है। उन्होंने जब मेरा लंड पर हाथ लगाया तो मेरा लंड पूरा खड़ा हो रखा था। उन्होंने उसे पकड़ कर हिलाना शुरू कर दिया और वह उसे बहुत ही अच्छे से हिला रही थी। लेकिन हम लोग अंदर सेक्स नहीं कर सकते थे इसलिए उन्होंने मेरे कान में मुझे धीरे से कहा कि बाथरूम में चलते हैं। मैंने उन्हें कहा ठीक है आप चलिए मैं आ रहा हूं। वह बाथरुम में चली गई जब वह बाथरूम मे गई तो उन्होंने अपने सारे कपड़े उतार दिए और वह नंगी थी। मैंने भी तुरंत अपने लंड को बाहर निकाल लिया और वह उसे चूसने लगी। जब वो झुक कर मेरे लंड को चूस रही थी तो उनके स्तन मुझे दिखाई दे रहे थे। मुझे बहुत ही मजा आ रहा था जब मै उनके स्तन को देख रहा था। मैं उन्हें अच्छे से देखे जा रहा था और जब मुझसे बिल्कुल भी नहीं रहा गया तो मैंने उनके स्तनों को पकड़ लिया और उन्हें दबाना शुरु कर दिया। मैंने बहुत ही अच्छे से दबा रहा था मुझे काफी आनंद आ रहा था जब मै उनके स्तनों को दबा रहा था। लेकिन एक समय बाद मुझे ऐसा प्रतीत हुआ कि अब मेरे लंड से कुछ ज्यादा ही गर्मी निकलने लगी है और मुझसे बिल्कुल बर्दाश्त नहीं होगी तब मैंने उनकी चूत के अंदर उंगली डाल दी। जब मैंने उंगली डाली डाली तो मैं अपनी उंगली को अंदर बाहर करने लगा।

मुझे बहुत ही मजा आता जब मैं उनकी चूत मे उंगली को अंदर बाहर करता जाता मैं अपनी उंगलियों को अंदर बाहर कर रहा था और वह चिल्लाने लग जाती। थोड़ी देर बाद मैंने उन्हें घोड़ी बनाते हुए उनकी चूत मे अपने लंड को डाल दिया। जब मैंने अपने लंड को डाला तो वह चिल्लाने लगी और कहने लगी कि मुझे बहुत अच्छा लग रहा है जब तुम्हारा मोटा लंड मेरी चूत मे जा रहा है। मैंने उनकी बड़ी चूतडो को पकड़कर धक्का देना शुरू किया। उनकी चूतडे कुछ ज्यादा ही बड़ी थी उनकी चूतड़ों को साइज कम से कम 40 का था और उनके स्तन भी बहुत बड़े थे। मैं उन्हें अब ऐसे ही चोदने से लगा हुआ था। मुझे बहुत ही मजा आ रहा था। वह भी अपनी चूतड़ों को मेरे लंड से टकराने लगी मुझसे उनकी चूतड़ों की गर्मी बिल्कुल बर्दाश्त नहीं हुई और मेरा वीर्य पतन हो गया। उन्होंने मेरे लंड को हिलाते हुए दोबारा से खड़ा कर दिया और इस बार जब उन्होंने खड़ा किया तो उन्होंने अपनी चूत में डाल दिया। मैंने दोबारा से उनकी चूतड़ों को पकड़ा और उनकी चूत मे धक्का मारने लगा। मैं बहुत ही अच्छे से उनकी चूत के अंदर अपने लंड को डाले जा रहा था। मैं जब उनको चोद रहा था तो मुझे आनंद आने लगा। मैंने उनके स्तनों को पकड़ लिया जब मैने उनके चूचो को पकड़ा तो मुझे ऐसा लग रहा था कि मैं उस पर ही लटक जाऊं। मैं उन्हें बड़ी तीव्र गति से चोदे जा रहा था  और उनकी चूत से तेज गर्मी निकलने लगी। मुझसे वह गर्मी बर्दाश्त नहीं हुई और 10 मिनट बाद मेरा वीर्य पतन दोबारा से हो गया। जब मेरा वीर्य पतन दोबारा से हुआ तो मैंने अपने लंड को बाहर निकालते हुए उनके मुंह के अंदर लंड डाल दिया उन्होंने उसे बहुत ही अच्छे से चूसना शुरू कर दिया। वह बहुत ही अच्छे से मेरे लंड को चूस रही थी और उन्होंने मेरे लंड को अपने गले तक उतार लिया। वह बडे ही अच्छे से मेरे लंड को अपने मुंह के अंदर ले रही थी तो मेरा वीर्य मेरे टोपे तक आ चुका था और वह अब गिरने ही वाला था। मैंने उनके मुंह के अंदर बड़ी तेज झटका मारा और मेरा सारा वीर्य उनके गले के अंदर चला गया। उन्होंने वह एक ही झटके में निगल लिया और उसके बाद हम दोनों कमरे में चले गए।

 


Comments are closed.



Online porn video at mobile phone


hinde kahne sixehindi sexx storypapa ne beti ki chudai kihindi me bf filmpati ke dosto ne chodasardi me bhn ne bhai se sil tudwaimaa ki chudai dekhihindi suhagrat sexkamukta sexychudai with hindihindi blue film sitesabse gandi chudai ki kahanichachi antarvasnaindian chudai khaniyaPariwarik sex story of Nepalichudai ki kahani ka audiodo ladki ki chudaianju ki chudaiapni student ko chodamaa beta sexybhai se chudvayachudai bhabhi ke sathkachi chut ki kahanisex marathi kathamaa ki chut bete ne marihihdi sexy storymaa ki chut ki chudaihot hindi shemail kahaniरेशमी की नंगी चुत मेँ सुमित ने लंड डालाdownload sex movi nadi k kinare chodahindi bur ki chudaiछोटी बहन की बेगानी शादी मेँ चुदाईchut ki chudai onlinesexy balatkarristo ki chudai kahanisex khaniya hindiसाली की हवस चुदाsex story hindi bhabhijija sali chudai ki kahaniकहानी चुदक्कड़ बहनmoti chudaidamad aur saas ki chudaiindian ssx storiesauntie or ma ki learbon sexstorymarwadi gay sex ki hindi kahaniyaschool teacher ki chudai train mechudai bursoniya sexलनड मुह मे केसे ले वाते कहानीland vs choothindi bhabihindi sexy satorialia bhatt saxsahar ki chudaiantarvasna kamukta hindi storyHindi sex story bhabhi ka figermast chut ki kahaniमौसी को मोटा लुंड हिंदी कहानीdehati burgandmand storysapana xxxhindi gay kahanidesi bur chudai ki kahanisexy saveta bhi bhi saee walechoot me bullabhabhi ki xxxhidi indian chot ki chudai devar sesuhagrat sex in indiaschool teacher ne chodanayi naveli bhabhi ki chudaihindi me chut ki kahanichudakad maahttps://econompolit.ru/tag/chuchiyan/page/11/chut chudai desi kahanimy hindi sex story comchachi sex kahanimaa ki badi gandfree saxy story bhabi NE lund ki malish ki.comhindi bhai behan chudai storyhindi antarvasna market me mili ladakiलड कि पुजारन बनि चूत कि कहानि