पापा ने मेरी सासू माँ को रंडी बनाया – भाग १

हैल्लो फ्रेंड्स मेरा नाम राजेश है और मेरी उम्र 23 साल है। दोस्तों आज में आपको एक ऐसी स्टोरी बताने जा रहा हूँ जो मेरे पापा और मेरी सासू माँ की चुदाई की है और यह घटना मेरी शादी के कुछ ही दिनों के बाद की है.. जब मेरे ससुर जी बीमार पड़ गये थे.. तब में और मेरे पापा उनका हाल जानने मेरे ससुराल गये हुए थे और हम रात में वहीं पर रुके थे। उस समय घर पर मेरी सास और मेरी एक साली और ससुर, में और मेरे पापा घर में मौजूद थे।

दोस्तों में सबसे पहले आपको मेरी सासू माँ के बारे में बता दूँ.. मेरी सासू माँ का नाम रामकौर है और वो बहुत ही सुंदर औरत है उनकी उम्र 49 साल की है.. लेकिन उनका शरीर बिल्कुल एकदम फिट है और उनको देखकर नहीं लगता है कि वो 49 साल की है। उनके बूब्स बहुत ही बड़े बड़े है और उनकी गांड बिल्कुल गोल गोल है.. मेरी सासू माँ अधिकतर टाईम सलवार सूट ही पहनती थी और सासू माँ की कुरती में से उनके बूब्स गजब की देखते थे और सारे मोहल्ले के लोग मेरी सासू माँ के हुस्न के दीवाने थे।

तो दोस्तों उस रात हम वहीं पर रुके हुए थे और घर में हम केवल तीन चार लोग ही थे। फिर जैसे ही में मेरे पापा और मेरी सास और ससुर जी ने हमे.. रात का खाना होने के बाद मुझे ऊपर सोने के लिए बोल दिया और मेरे पापा को भी। मेरे पापा का नाम रमेश है.. मेरे पापा मेरी सासू माँ को घूर घूरकर देख रहे थे और सासू माँ को बहुत ही पसंद करते थे.. ससुर जी को बीमार हुए बहुत दिन हो गये थे। मेरी सासू माँ ने मेरे पापा से बहुत सारी बातचीत की और सोने की तैयारी होने लगी तो में ऊपर वाले कमरे में सोने चला गया और मुझे कुछ देर नींद नहीं आई तो में वापस नीचे आया और मैंने देखा कि मेरे पापा मेरी सासू माँ के पास बैठे है और वो सासू माँ के साथ बातचीत करने में लगे हुए थे और वो सासू माँ से कहने लगे कि रोने की ज़रूरत नहीं है सब ठीक हो जाएगा.. बीमारियाँ तो आती जाती रहती है और अब उसने सासू माँ को सोफे पर बैठा दिया और सासू माँ के आँसू पोंछने लगे।

तभी मैंने देखा कि पापा सासू माँ के गालों को छू रहे है फिर उन्होंने मौका देखकर एक हाथ मेरी सासू माँ के बूब्स पर रख दिया। तो सासू माँ ने कहा कि आप यह क्या कर रहे हो? तो मेरे पापा कहने लगे कि बस आपको प्यार दे रहा हूँ। तो सासू माँ ने कहा कि यह क्या कह रहे हो आप? और यह बिल्कुल भी नहीं हो सकता। तो पापा बोले कि क्यों नहीं हो सकता? आख़िर तुम मेरी समधन तो हो ही और समधन के साथ तो मेरा पूरा हक है। तो वो उनकी तरफ देखने लगी और में दूसरे रूम से खड़ा होकर यह सब देख रहा था। तभी सासू माँ ने कहा कि ठीक है.. लेकिन अभी नहीं.. मेरा जवाई राजा देख लेगा। में देर रात में आउंगी। तो उन्होंने कहा कि ठीक है। फिर मेरे पापा चले गये। में भी तैयार होकर ऊपर सोने चला आया.. लेकिन में यही सोच रहा था कि आज पापा, मेरी सासू माँ को चोद देंगे।

तभी थोड़ी देर बाद सासू माँ बाथरूम में नहाने चली गयी और जब सासू माँ बाहर निकली तो मैंने देखा कि सासू माँ ने सफेद कलर का सलवार सूट पहन रखा था और सासू माँ का सूट बिल्कुल पारदर्शी था.. जिसमे से उनकी लाल रंग की ब्रा दिख रही थी और उसमे सासू माँ गजब हॉट लग रही थी और मैंने देखा कि सासू माँ तैयार हो रही थी। तभी मैंने सासू माँ से पूछा कि सासू माँ आप कहीं जा रही हो क्या? तो सासू माँ ने कहा कि हाँ जवाई राजा में पार्टी में जे रही हूँ और तुम सो जाओ। तो मैंने कहा कि ठीक है और में सोने चला गया.. लेकिन मेरे दिमाग़ में पापा की बात चल रही थी कि आज वो अपनी समधन को चोद देंगे। तभी कुछ देर बाद सासू माँ बाहर निकलकर ऊपर वाले हिस्से के पिछले कमरे की तरफ चली गयी.. में थोड़ी देर तक ऐसे ही बेड पर लेटा रहा और फिर में उठा और उसी तरफ का गेट खोला और सासू माँ के पीछे पीछे चला गया। तो मैंने देखा कि सासू माँ और पापा एक कमरे में बंद हो गये और पापा ने रूम का दरवाजा बंद कर दिया। तो में वहीं पर बनी एक छोटी सी खिड़की से अंदर की तरफ देखने लगा। सासू माँ सोफे पर जाकर बैठ गयी.. पापा भी वहीं पर सासू माँ के पास में जाकर बैठ गये और सासू माँ से बातें करने लगे। फिर मैंने देखा कि पापा सासू माँ को घूरकर देख रहे थे और अब पापा सासू माँ के और पास में बैठ गये।

फिर पापा ने सासू माँ की जांघो पर हाथ रख दिया और सहलाने लगे.. सासू माँ थोड़ी बहुत डरी हुई सी नज़र आ रही थी.. क्योंकि पहली बार सासू माँ किसी गैर मर्द से चुदवाने जा रही थी और अब पापा ने सासू माँ का गाल पकड़ लिया और सासू माँ के होंठ को अपने होंठ पर सटा लिया और चूमने लगे और सासू माँ के होंठ को चूसने लगे। फिर मैंने देखा कि पापा सासू माँ की लिपस्टिक को चाट रहे थे.. मेरी सासू माँ ने पापा के कंधे को पकड़ रखा था और अब वो भी पापा का पूरा पूरा साथ दे रही थी और अब पापा मेरी सासू माँ के गले पर किस करने लगे तो सासू माँ को भी बहुत मज़ा आ रहा था और उन्होंने अपने एक हाथ से पापा के बाल पकड़ रखे थे। फिर पापा ने सासू माँ को खड़ा कर दिया और दीवार से एकदम चिपकाकर खड़ा कर दिया और सासू माँ के गले पर किस करने लगे.. तो सासू माँ आआ उह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ कर रही थी और पापा जानवरों की तरह मेरी सासू माँ को चूम रहे थे। तभी थोड़ी देर तक ऐसे ही मेरी सासू माँ को किस करने के बाद पापा ने अपने दोनों हाथों को पीछे कर दिया और मेरी सासू माँ की कुरती ऊपर उठाकर सलवार के ऊपर से सासू माँ के चूतड़ मसलने लगे। तभी मैंने देखा कि सासू माँ की सलवार बिल्कुल पारदर्शी थी और उन्होंने लाल कलर की पेंटी पहन रखी थी।

फिर पापा मेरी सासू माँ के चूतड़ो को ज़ोर ज़ोर से मसले जा रहे थे.. पापा ने सासू माँ से कहा कि समधन जी जब से मैंने तुम्हे देखा है तब से तुम्हे चोदना चाहता था.. लेकिन मुझे कभी मौका ही नहीं मिला और आज में तेरी चूत फाड़ दूँगा। फिर पापा ने मेरी सासू माँ को अपनी गोद में उठा लिया और बेड की तरफ लेकर चले गये। पापा का शरीर बहुत अच्छा था इसलिए मेरी सासू माँ को उठाने में उन्हे ज्यादा समस्या नहीं हुई। फिर में भी बेडरूम की खिड़की पर चिपका खड़ा था और रूम में देखने लगा। तो मैंने देखा कि पापा ने मेरी सासू माँ को बेड पर पटक दिया और बेड पर गिरते ही मेरी सासू माँ के बूब्स जोर ज़ोर से हिलने लगे। फिर पापा ने अपने सारे कपड़े उतार लिए और सासू माँ के सामने बिल्कुल नंगे हो गये। पापा का लंड बहुत बड़ा था.. उनके लंड का साईज 9 इंच था और वो बहुत मोटा भी था और उनके लंड का रंग ना काला ना ज़्यादा सफेद मिलावटी कलर का लंड था। तभी सासू माँ, पापा का लंड देखकर बहुत डर गयी और कहने लगी कि हाय राम आपका तो यह बहुत बड़ा और मोटा है.. इसे तो मुझे लेने में बहुत दर्द होगा।

तो पापा सासू माँ के पास गये और उन्होंने कहा कि तुम चिंता मत करो में धीरे धीरे करूंगा। फिर उन्होंने इतना कहकर अपना लंड मेरी सासू माँ के मुहं में दे दिया। तो सासू माँ पापा के लंड को चूसने लगी। तभी थोड़ी देर में सासू माँ ने पापा का पूरा लंड अपने मुहं में ले लिया और बड़े मजे से अंदर बाहर करने लगी और उसे लोलीपोप की तरह चूसने लगी। मैंने पापा की तरफ देखा पापा अह्ह्ह अहह कर रहे थे और अपने दोनों हाथों से मेरी सासू माँ के बूब्स को मसल रहे थे.. सासू माँ कभी पापा के लंड को चूसती थी तो कभी उनके लंड को सहलाती थी। फिर पापा ने अपना लंड सासू माँ के मुहं से निकाल दिया और उन्होंने मेरी सासू माँ का कुर्ता निकाल कर ज़मीन पर दूर फेंक दिया। तो मैंने देखा कि सासू माँ ने लाल कलर की ब्रा पहन रखी थी.. पापा ने मेरी सासू माँ की ब्रा का हुक खोल दिया। तो वो कमर के ऊपर से बिल्कुल नंगी थी। मैंने पहली बार सासू माँ के नंगे बूब्स को देखा था सासू माँ के निपल्स भूरे कलर के थे.. पापा तो मेरी सासू माँ के बूब्स को देखते ही रह गये। सासू माँ के बूब्स बिल्कुल गोल गोल और बड़े थे.. फिर पापा ने मेरी सासू माँ को लेटा दिया और मैंने देखा कि पापा ने तकिया मेरी सासू माँ की पीठ के नीचे लगा दिया जिससे उनके बूब्स और तन गए।


Comments are closed.



Online porn video at mobile phone


14 sal ki ladki ko chodaवाराणसीचुदाईland chut ki hindi storyसेकसिसभोगसटोरीsexy kahani bhaibahan ki chudai hindi kahanibalatkar jabardastidesi swxchoudan sexmeena ki chudaidehati ladki sexhindi sexy chudai storymaa bete ka sex Kavithaigalgandi storykutte se chudai storymaa bete ki hindi sex storychachi ki chaddibadwape of sala ki parni ki choudi panjabimausi ki chudai in hindi storymoti bhabhi ko chodabahu ne sasur se chudwayaindian porbmaa ko choda story hindihindi sex story combhoomika sexantarvasna mausifuck khanibhabhi ko kitchen me chodachori ki chutdesi sexi storyindian teacher sex storiesbhani ki chudaichudai ki new kahani in hindijangli jawaniantarvasna com hindi story 2010haryana auntywww indiansexstories inbaap se chudai kahanihindi hot chudai storylund choot lundxcxx.onm apne aap ko Chodu blue picture Hindi mein maa ki chudai Hindi10inch ke land se bahan ki seal tod hindi sex storygandi khaniyabhai behan kahanisexy story hindi comantarvasna 2015hindi sexy story hindi sexy story hindi sexy storyhindi mai chudai ki kahaniclass ki ladki ko chodasexy desi storychodan hindiboor me lund dalasasur ki chudai ki kahaniहोली पर भाभी को चोद डालाbhojpuri gaaliबच्चे के सामने भाभी सेक्स हिंदीpregnant didi ko chodaantarvasna hinde storepados ki aunty ko chodachudai story in hindi newfree chudai stories in hindisadhu pornhindi actress ki chudaimadam ko chodahindi maa ko chodahindi incest kahanimeri maa ko chodaकहानीpapasexyचलती बस मे सील तोडी पापानेbehan bhai ki chudai ki kahani