उफ़ मेरी चुदाई क्रिया

Uf meri chudai kriya:

indian sex kahani

मेरा नाम सीमा है और मैंने इसी वर्ष अपने 12वीं की परीक्षा दी है। इसलिए मैं घर पर ही थी और ज्यादा इधर-उधर नहीं जाती थी। अभी मैं अपने पड़ोस में ज्यादा लोगों को नहीं जानती थी। जो हमारे आस-पास रहते थे उनसे ही हम लोगों की बातचीत थी। क्योंकि हम लोग लखनऊ में नए आए थे। पहले हम लोग आगरा में ही रहा करते थे। उसके बाद हम लोग लखनऊ में आकर रहने लगे। अब मैं अपने घर में ही रहती थी और ज्यादा बाहर नहीं जाती थी। मुझे भी लगता था कि मुझे बाहर जाना चाहिए लेकिन हमारे मोहल्ले में मेरी किसी के साथ भी दोस्ती नहीं थी। मेरी एक सहेली थी जो कि स्कूल में मेरे साथ पढ़ती थी। वह कभी कबार हमारे घर पर आ जाया करती थी। जब वह हमारे घर आती तो वह मुझसे पूछ लिया करती थी तुम क्या कर रही हो और आगे क्या करने वाली हो। मैं उसे कहती कि पहले मैं बारवहीँ पास तो हो जाए उसके बाद देखते हैं आगे क्या करना है और हम लोग बहुत ही बातें किया करते। हम लोग अपने स्कूल के दिनों के बाद भी याद किया करते हैं किस तरीके से हम लोग स्कूल में मस्ती किया करते थे। हम लोगों को बहुत ही अच्छा लगता था जब हम स्कूल में थे लेकिन मेरी सहेली कम ही हमारे घर आ पाती थी। क्योंकि उसका घर हमारे घर से बहुत ज्यादा दूर था। इसलिए उसका हमारे घर पर आना संभव नहीं हो पाता था। कभी समय लगता तो मैं भी उसके घर पर चली जाती हूं और उससे हाल-चाल पूछ लेती। मुझे बहुत ही अच्छा लगता था जब मैं उसके साथ समय बिताती थी।

एक दिन मैं अपने छत पर टहल रही थी तो मुझे छत से एक लड़का दिखाई दिया। जो कि दिखने में अच्छी कद काठी था और मुझे उसे देखकर ना जाने क्या हुआ। मुझे उसके लिए अंदर से एक फीलिंग सी आने लगी। क्योंकि वह बहुत ही अच्छा दिख रहा था। मैंने सोचा कि मुझे उससे बात करनी चाहिए लेकिन मैं उससे बात कैसे करती। मेरे अंदर यह दुविधा बनी हुई थी की वह सिर्फ छत पर ही दिखाई देता था। अब मैं अक्सर छत में आने लगी और जब मैं छत में आती तो जब भी वह लड़का मुझे मिलता है तो मैं उसकी तरफ देख भी नहीं पाती और वह भी मुझसे अपनी आंखें चुराया करता है हम दोनों ही ऐसे छत पर आने लगे लेकिन मैं यह सोचती थी कि मैं उसे जानती ही नहीं हूं तो मैं उससे कैसे बात करूं। एक दिन हमारे मोहल्ले में एक छोटा सा प्रोग्राम था तो उसमें वह लड़का भी आया हुआ था। मैं उसे बार-बार देख रही थी और वह भी मुझे तिरछी नजरों से देखे जा रहा था लेकिन ना तो वह मुझसे बात करने की हिम्मत कर पाया और ना ही मेरी बात उससे हो पाई। अब वह भी अपने घर चला गया और मैं भी अपने घर चली गई। एक दिन हमारे घर पर एक महिला आई।

वह हमारे घर पर काफी देर तक बैठी हुई थी और मेरी मम्मी से बहुत ही अच्छे से बात कर रही थी। जब मैं भी बाहर आई तो वह मुझे कहने लगी कि तुम घर में ही रहती हो। मैंने कहा हां आंटी मैं घर में ही रहती हूं। यहां पर मेरा कोई भी दोस्त नहीं है। इसलिए मैं ज्यादा कहीं नहीं जाती। तो वह कहने लगी कि तुम मेरी लड़की के साथ बैठने आ जाया करो या फिर वह तुम्हारे घर आ जाया करेगी। मैंने उन्हें कहा कि मैं आपके घर आ जाऊंगी। वो कहने लगी ठीक है तुम हमारे घर पर आ जाना। जब मैंने उनसे उनका घर पूछा कि आपका घर कौन सा है। तो उन्होंने मुझे वही वाला घर बताया जिस छत पर वह लड़का मुझे अक्सर दिखाई देता था। यह बात सुनकर मैं और भी खुश हो गई और जब मैं उनके घर गई थी तो उनकी लड़की से मेरी मुलाकात हुई। उनकी लड़की का नाम संगीता था और जब मेरी उससे मुलाकात हुई तो वह मुझसे बहुत ही अच्छे से बात कर रही थी। मुझे ऐसा बिल्कुल भी नहीं प्रतीत हो रहा था कि मैं उसे अभी अभी जानती हूं। मुझे ऐसा लग रहा था जैसे कि मैं उसे कितने वर्षों से जानती हूं और हम दोनों के बीच में कितनी गहरी दोस्ती है। वह मेरी दोस्त बन गई थी तो मैं सोचने लगी कि मैं उससे उसके भाई का भी नंबर ले लू। मैंने उसे पूछ लिया कि तुम्हारे भाई का क्या नाम है और उसने कहा कि उसका नाम रौनक है। मैंने उससे पूछा कि वह क्या करता है। उसने कहा वह कॉलेज में पढ़ाई कर रहा है लेकिन अभी मेरी उससे बात नहीं हुई थी।

एक दिन जब वह अपने कॉलेज से घर लौटा तो मैं उसके घर पर ही थी और मैं और संगीता बैठ कर बात कर रहे थे। वह भी मुझे देख कर अपनी आंखें चुराने लगा और मैं भी उसे देख कर अपनी आंखें चुरा रही थी। हम दोनों आपस में नजरें बिल्कुल भी नहीं मिला पा रहे थे। तभी संगीता ने उससे मेरा इंट्रोडक्शन करवाया और कहने लगी कि यह मेरी सहेली है और यहां पास में ही रहती है। उसने मुझसे हाथ मिलाया और पूछने लगा आपका क्या नाम है। मैंने उसे अपना नाम बताया तो हम दोनों की बातें होने लगी। मेरे पास पहले से ही रोनक का नंबर था। तो एक दिन उसने मुझे कॉल कर दिया। जब उसने मुझे कॉल किया था तो मेरे फोन पर उसका नंबर पहले से ही सेव था। अब उसने मुझसे बातें करनी शुरू कर दी और हम दोनों की ऐसे ही काफी बातें होने लगी। वह मुझसे कहने लगा कि कभी मेरे साथ मेरे कॉलेज चलना। मैंने उसे कहा ठीक है। जब मेरा मन होगा तो मैं तुम्हें बता दूंगी। अब एक दिन मैं उसके साथ उसकी बाइक पर उसके कॉलेज घूमने चली गई। उसने मुझे अपने कॉलेज में अपने दोस्तों से मिलाया और अब हम दोनों के बीच बहुत नजदीकियां बढ़ने लगी थी। अब वह हमारे घर भी आ जाया करता था और मेरा उसके घर पर अब अक्सर जाना होता था

मैं संगीता के घर पर एक दिन बैठी हुई थी तो संगीता और उसकी मां कहीं चले गए और संगीता ने मुझे कहा कि तुम घर पर ही रहना हम लोग बाजार से कुछ सामान लेकर आते हैं। मैं उसके घर पर ही बैठी हुई थी तभी रौनक भी घर पर आ गया। वह मुझे पूछने लगा संगीता कहां है मैंने उसे कहा वह लोग बाजार गए हैं कुछ सामान लेने के लिए। अब रौनक मेरे साथ ही बैठ गया और हम दोनों एक दूसरे को देख कर शर्मा रहे थे। मैं जैसे ही खडी उठी तो मेरे स्तन रौनक के मुंह पर लग गए जैसे ही मेरे स्तन उसके मुंह पर लगे तो उसके अंदर की उत्तेजना जाग गई। उसने मुझे कसकर पकड़ लिया जैसे ही उसने मुझे कसकर पकड़ा तो मेरे स्तनों उससे टकरा रहे थे और उसके लंड मेरी गांड पर टकरा रहा था। उसने अपने लंड को बाहर निकालते हुए मेरे हाथ में दे दिया और मैं उसे हिलाने लगी। मैं बहुत ही अच्छे से हिला रही थी अब मैंने उसका लंड अपने मुंह में समा लिया और अच्छे से चूसना जारी रखा। अब रौनक ने मुझे वही जमीन पर लेटा दिया और मेरे कपड़े उतार दिए। अब वह मेरी चूत को चाटने लगा वह बहुत अच्छे से मेरी चूत को चाट रहा था। जिससे कि मेरी चूत पूरी गीली हो गई।

रौनक ने मेरी चूत मे अपने मोटे लंड को जैसे ही डाला तो वैसे ही मेरी सील टूट गई। मेरी इच्छा पूरी हो गई रौनक से अपनी चूत मरवाने की अब वह मेरे दोनों पैरों को पकड़कर मुझे अच्छे से चोदने लगा। जैसे ही वह मुझे धक्का मारता तो मेरे मुंह से आवाज आती और अब वह अपने लंड को अंदर बाहर करने लगा। जब उसका लंड अंदर बाहर होता तो मेरी उत्तेजना और ज्यादा बढ़ जाती। जब उसका लंड मेरी चूत के अंदर तक जाता तो मुझे बहुत मजा आता। उसका लंड बहुत ही ज्यादा मोटा था और अब वह मेरे पैरों को पकड़कर ऐसे ही चोदने पर लगा हुआ था। क्योंकि मेरी चूत टाइट थी इसलिए उसे बहुत मजा आ रहा था। वह मेरे स्तनों को भी अपने मुंह में ले रहा था और मेरे होठों को भी चूम रहा था। उसने मुझे इतनी तेज गति से चोदना शुरू किया कि मेरे गले से भी आवाज आने लगी और मेरी सांस रुकने लगी। मुझे बहुत ही आनंद आने लगा जब वह मेरी चूत मे धक्के मार कर अपने लंड को पूरा अंदर तक सटा देता। वह मेरी चूत को ज्यादा देर तक बर्दाश्त नहीं कर पाया और 200 झटकों के बाद उसका वीर्य मेरी योनि के अंदर ही गिर गया और मेरी इच्छा पूरी हो गई। अब हमने जल्दी से कपड़े पहने और थोड़ी देर बाद संगीता भी आ गई लेकिन मेरी चूत  से अब भी खून टपक रहा था।


Comments are closed.



Online porn video at mobile phone


दीदीऔर कुता की सेकसी कहानियाchuti ki aag ki havas hindi xxx kahani45 साल ऊमर भाबी के साथ सेक्स कहाणीbhabhi ka bur12 class ki gril ki chudai storyindian sex stori comhindi chudai story freevirgin aayushi ritesh chudai kahanichudai kahani hindihot chudai ki khaniyachut ka khelbehan ne boobs dabwayeDesi sexi cueple khaniyasexy story of marathibhabhi ki choot kahaniभिलाई.की.चुदाई.कहानीcoaching class me meri friends or me chudi sex story in hindiभाभी ने मेरी चुदाई गुंडों से करवाईmami ki sex kahanirshili chut marathi xxxsexy hindi comics free downloadचूत चूदी औरत के कहानी कहानीhindi sex story aunty ki chudaidhoke se chudaimarathi desi sex storychut lund ki kahani in hindichoot & landdidi ko choda sex storyकोठे की लडकियो कीXxx storySexy kahani urdo ma 2019jabardasti ki chudaimaa ki chudai bete se storychut me do lundnew xxx in hindiaunt chudaichudai ki kahani bhai ke sathxxx gaad ki tatty khane waly kahani hindi melund chusne ke faydeindian aunty ki chudai storybhai bahan sex story hindihindi chodai khaniyabhabhi jawanistory sexyxxx sex hindi storymarthi sexy storydrsi babhi in rangi braladki ki chudai hindi storybhabhi ki chudai hotel meलङकी की सुहागरात कि xxxxकहानीsexy bhabhi hindi storyhindi randi ki chudaiपति के सामने उसकी बीवी को चोदाhinde sex story मा और ठीकेदारsasur ne choda hindi kahani16 saal ki pados ki ladki prachi ki chut chudai kahanichut storypapa beri sex story fotoबगीचा मे चुदाई कि कहानि हिदीmom beta ki kamuk gupt kahnihindi blue movie videohindi kamuk kahaniyasngita ko choda kahaniindian hindi pronज़ालिम भाई चुड़ै स्टोरीजland aur chut videolund or chut ki kahanichudai ki kahani by girlsexy gand ki chudai.hindilundkahanibehan ko maa banayarandichudaistorysaali ki chudaiantarvasna.com chachi carindian latest sex storieskamukta hindi storydidi ki panty sunghi khani sexchudai maza comantarvasnaरिश्तों में चुदाई मस्तराम की कहानियों में बीबी की चुदाई गैर मर्दों सेGandu pati xxx khanimast chudai kahani in hindihinde sax moviewww.jism farosee hinde 3xnew hindi sex stories